JaiRajputana


About Us

September 26, 2017 | | | Comments
खम्मा हुकुम !! जयराजपुताना में आपका स्वागत है | इस पेज पर आप जयराजपुताना और इसके लेखक के बारे में और अच्छे से जान पायेगे | हमें और अच्छे से जान कर हम एक मजबूत रिश्ता कायम कर सकते है | जयराजपुताना ब्लॉग की शुरुआत 2 दिसम्बर 2012 को हुई थी | जयराजपुताना ब्लॉग राजपूत और राजपुताना से सम्बंधित आर्टिकल्स उपलब्ध करता है | इस ब्लॉग के माध्यम से हम अपने 1000 साल पुराने कल्चर, रीती रिवाज, इतिहास, राजा महाराजा. योद्धा, किले, कुलदेवी, मंदिर, कुल, वंश, आदि के बारे में जान सकते है | आप इस ब्लॉग को इस ब्लॉग के सोशल प्रोफाइल्स पर जुड़कर सहयोग प्रदान कर सकते है | Facebook, Google+, Twitter, Instagram, Youtube, Feed.

Blog Author (लेखक) - Mahipal Singh

खम्मा घनी सा !! मेरा नाम महिपाल सिंह है | मैं जयराजपुताना ब्लॉग को मैनेज करता हूँ | मैं राजस्थान के जालोर जिले का रहने वाला हूँ | मैंने अपनी स्कूलिंग जालोर और पाली से 2007 में पूरी की है | उसके बाद में 2007 में, मैं आगे की पढाई के लिए जयपुर चला गया | जयपुर से मैंने इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में B. Tech. 2011 में पूरी की है | मैं एक बहुत साधारण, ट्रूथ लविंग, काम को समर्पित व्यक्ति हूँ | मुझे टेक्नोलॉजी, कंप्यूटर, इन्टरनेट, ब्लॉग्गिंग से सम्बंधित चीजे अच्छी लगती है |

ब्लॉग्गिंग मेरी रूचि है | मैं ब्लॉग्गिंग पार्ट टाइम करता हूँ | और इसी रूचि की वजह से तथा राजपुताना को ऑनलाइन पहचान देने के लिए मैंने 2012 में जयराजपुताना ब्लॉग की शुरुआत की है | एक वेबसाइट बनाना मेरा सपना था | बचपन में जब पहली बार मैंने इन्टरनेट और वेबसाइट्स के बारे में जाना तो मैं चोक गया की कोई व्यक्ति कैसे एक कमरे में बेठ कर इन्टरनेट से पूरी दुनिया की जानकारी रख सकता है | कैसे एक व्यक्ति एक कमरे में बेठ कर वेबसाइट्स से अपने आप को दुनिया के सामने प्रस्तुत कर सकता है | 2011 से पहले मुझे ब्लॉग या ब्लॉग्गिंग के बारे में कुछ भी पता नहीं था | मेरी ब्लॉग्गिंग की यात्रा 2011 में एक घटना से शुरू हुई | 2011 में मैंने इन्टरनेट का एक डोंगल लिया | उस इन्टरनेट डोंगल के साथ एक ऑफर था जिसके तहत मुझे [.in] डोमेन फ्री मिला | फिर मैंने नेट पर थोडा सर्च करके अपना पहला डोमेन Sarvagunsampann.in रजिस्टर किया | मैंने इस डोमेन से बहुत कुछ सिखा | ब्लॉग्गिंग की दुनिया का पहला स्टेप मैंने इस डोमेन से सिखा | लेकिन मुझे अभी बहुत कुछ सीखना बाकी था, लेकिन यहाँ से मेरी ब्लॉग्गिंग की यात्रा शुरू हो चुकी थी | इस डोमेन के बाद मैंने बहुत से डोमेन ख़रीदे जो की एक तरह से पैसो की बर्बादी थी | लेकिन कहते है कुछ पाने के लिए कुछ खोना पड़ता है | इस तरह प्रतियेक दिन मैं ब्लॉग्गिंग से कुछ ना कुछ सिखने लगा | 2012 के अंत में मैंने blogger.com के बारे में सुना | मैंने लैपटॉप के सामने घंटो बैठकर ब्लॉगर, वर्डप्रेस, ब्लॉग्गिंग के बारे में सीखना शुरू किया | 2 महीने बाद मुझे महसूस हुआ की मैं अपना किमती समय बर्बाद कर रहा हूँ | इसलिए मैंने ब्लॉग्गिंग का सारा काम बंद कर दिया |

लेकिन फिर से 4 या 6 महीने बाद 2013 में मैंने सोचा की ब्लॉग्गिंग हर किसी का काम नहीं है | हर कोई व्यक्ति एक सफल ब्लॉग या वेबसाइट नहीं बना सकता है | और उस पल के बाद मैंने ब्लॉग्गिंग फिर से स्टार्ट कर दी | मैंने गूगल पर ब्लॉग्गिंग के सीक्रेट्स सीखे | मुझे अच्छे से याद है मैंने कुल 25 के आसपास डोमेन रजिस्टर किये होगे | उन डोमेन्स मेसे मैंने कुछ डोमेन सेलेक्ट किये जिन पर आज मेरे सफल ब्लॉग चल रहे है | जयराजपुताना उन मेसे एक है | आप मुझसे जुड़ने के लिए मेरी सोशल प्रोफाइल्स पर मुझे ज्वाइन करे | Facebook, Instagram, Twitter, Google+

आपके प्यार और सहयोग के लिए बहुत बहुत धन्यवाद .. :-)
Comments
Post a Comment